बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2024 | ट्यूबवेल लगाने के सरकार दे रही है ₹24000 की सहाय

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2024 : बिहार सरकार ने किसानों की मदद के लिए “बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना” शुरू की है। लगातार सूखे से जूझ रहे किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार उन्हें निजी नलकूप बनाने में मदद कर रही है। इस योजना के तहत किसानों को अपने नलकूप बनाने के लिए सब्सिडी मिलेगी।

अगर आपका नलकूप 70 मीटर तक गहरा है, तो आपको 328 रुपये प्रति मीटर के हिसाब से अधिकतम 15,000 रुपये की मदद मिलेगी। और अगर आपका नलकूप 100 मीटर तक गहरा है, तो आपको 597 रुपये प्रति मीटर के हिसाब से अधिकतम 35,000 रुपये की मदद मिलेगी। इस लेख में हम आपको बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के बारे में पूरी जानकारी देंगे, जैसे आवेदन कैसे करें, कौन पात्र है, और कौन से दस्तावेज चाहिए। इस लेख को पूरा पढ़ें ताकि आप इस योजना का लाभ उठा सकें।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना 2024

बिहार सरकार ने राज्य के किसानों को उनकी फसलों की सिंचाई आसान बनाने के लिए “बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना” शुरू की है। इस योजना के तहत, बिहार के किसान अपने खेतों में निजी नलकूप लगा सकते हैं और सरकार उनको आर्थिक मदद देगी। अगर किसी किसान के पास 40 डिसमिल से ज़्यादा ज़मीन है, तो वो इस योजना के लिए योग्य हैं।

उन्हें 15 हज़ार से 35 हज़ार रुपये तक की सब्सिडी मिलेगी और साथ ही, नलकूप के लिए पंप खरीदने के लिए 10,000 रुपये अलग से दिए जाएँगे। इस योजना से राज्य के किसानों को समय पर अपनी फसलों की सिंचाई करने में मदद मिलेगी और उनकी आमदनी बढ़ेगी। अब तक 843 किसानों ने इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का उद्देश्य 

बिहार में कई बार ऐसा होता है कि बारिश कम होने की वजह से किसानों के खेतों को पानी नहीं मिल पाता और उनकी फसलें सूख जाती हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए बिहार सरकार ने “बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना” शुरू की है। इस योजना के तहत, बिहार के किसान अपने खेतों में निजी नलकूप लगा सकते हैं और सरकार उन्हें इसके लिए सब्सिडी देती है।

यह सब्सिडी 15,000 रुपये से लेकर 35,000 रुपये तक है, और नलकूप के लिए पंप खरीदने के लिए अलग से 10,000 रुपये मिलते हैं। इस योजना से किसानों को अपने खेतों में समय पर पानी मिल सकेगा, जिससे उनकी फसलें अच्छी होंगी और उनकी आय बढ़ेगी। बिहार सरकार का मुख्य लक्ष्य इस योजना के ज़रिए राज्य के किसानों का विकास करना है।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का लाभ

बिहार सरकार ने किसानों को उनकी फसलों के लिए पानी की समस्या से निपटने में मदद करने के लिए “बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना” शुरू की है। इस योजना के तहत, बिहार के सभी किसानों को अपने खेतों में निजी नलकूप लगाने के लिए सरकार से सब्सिडी मिल सकती है। अगर आपका नलकूप 70 मीटर तक गहरा है, तो आपको 328 रुपये प्रति मीटर के हिसाब से अधिकतम 15,000 रुपये की मदद मिलेगी।

और अगर आपका नलकूप 100 मीटर तक गहरा है, तो आपको 597 रुपये प्रति मीटर के हिसाब से अधिकतम 35,000 रुपये की मदद मिलेगी। इसके अलावा, नलकूप के लिए पंप खरीदने के लिए अलग से 10,000 रुपये भी मिलेंगे। इस योजना से किसानों को अपने खेतों में समय पर पानी मिल सकेगा, जिससे उनकी फसलें अच्छी होंगी और उनकी आय बढ़ेगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इस योजना का लाभ सभी प्रखंडों के किसानों को मिल सकता है।

Read More : Ladli Behna Yojana 14th Installmen

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए पात्रता

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ शर्तें हैं।

  • आपको बिहार राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आपके नाम से कम से कम 40 डिसमिल जमीन होनी चाहिए।
  • यह योजना छोटे और सीमांत किसानों को प्राथमिकता देती है।
  • अगर आप अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति से हैं, तो आपको इस योजना में प्राथमिकता दी जाएगी।
  • एक किसान इस योजना के तहत एक ही बार बोरिंग और सेट के लिए अनुदान ले सकता है।

यदि आप इन सभी शर्तों को पूरा करते हैं, तो आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना के लिए डाक्यूमेंट्स

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि के कागज़ात
  • भू – धरकता प्रमाण पत्र 
  • किसी अन्य संस्था से सबंधित नलकूप के लिए वित्तीय सहायता नहीं लेने का घोषणा पत्र 
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना आवेदन प्रक्रिया

बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना का लाभ उठाने के लिए, आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

  • आपको बिहार सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर, आपको “बिहार शताब्दी निजी नलकूप योजना” के लिए एक आवेदन फॉर्म मिलेगा।
  • फॉर्म में, आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी, जैसे नाम, पता, मोबाइल नंबर और बैंक खाता विवरण दर्ज करना होगा।
  • साथ ही, आपको अपनी कृषि भूमि के बारे में जानकारी भी देनी होगी।
  • आवेदन करते समय, आपको ऊपर बताए गए सभी ज़रूरी दस्तावेज़ों को स्कैन करके फॉर्म में अपलोड करना होगा।
  • आवेदन पूरा करने के बाद, आपको इसे जमा कर देना होगा।

सरकार आपके आवेदन का मूल्यांकन करेगी और यदि आप योजना के लिए पात्र हैं, तो आपको अनुमोदन पत्र मिल जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top